10 April 2011

देवेंद्र मामा की कविता: जादू जी जब पहुंचे फ्रांस

देवेंद्र मामा इलाहाबाद में हैं। 
मेरी खोज-खबर लेते रहते हैं।
मम्‍मा मेरे बारे में हर छोटी बड़ी बात मामा को बताती हैं।
पिछले कुछ महीनों से मामा मेरी हर एक शरारत पर कविताएं लिख रहे हैं। पापा ने उन्‍हीं की आवाज़ में मोबाइल फोन पर रिकॉर्ड भी किया है। पर बिज़ी थे इसलिए पापा उन्‍हें पोस्‍ट नहीं कर पाए। 


ये रही मामा की मेरी शरारतों पर लिखी गयी कविताओं की सीरीज़ की पहली कविता। दरअसल बाथरूम में घंटों अपने मिनी स्‍वीमिंग पूल में मुझे छई छप छई करना बहुत पसंद है। मम्‍मा ने जब मामा को ये बात विस्‍तार से बताई  तो मामा ने ये कविता लिख डाली।


मामा की आवाज़ में सुनिए



एक दिन जादू पहुंचे फ्रांस
लगे वहां पर करने डांस
मम्‍मी पापा पीछे दौड़े
नहीं पकड़ने का कोई चांस
पेरिस से फिर लंदन पहुंचे
टेम्‍स नदी में उतर पड़े
नहीं जानते थे तैराकी
लगे डूबने खड़े खड़े
तब तक पीछे पुलिस आ गयी
पकड़ उठे तब जादू जी

पासपोर्ट जब पुलिस ने मांगा
घबराए थे जादू जी
सिट्टी पिट्टी गुम को गयी
बुरे फंस गए जादू जी
हकलाती आवाज़ में बोले
मुझे बचाओ बाबू जी
अच्‍छा हुआ जो फोन ऑन था
बांध लिया था टाई में
आवाज़ सुनी नेट पर मम्‍मी ने
पांव फंसे थे खाई में
सर्वाइलेन्‍स की मदद से जाकर


जादू जी लोकेट हुए

भारत में मम्‍मी पापा से
किसी तरह अपडेट हुए
पासपोर्ट बनवाकर सीधे
पापा फिर लंदन पहुंचे
सूटकेस में दो थे कपड़े
संग लिये तब मम्‍मी पहुंचीं 
जादू जी थे सही सलामत 
फिर भी वे थे कांप रहे थे
हवालात में बैठे बैठे
इधर उधर थे ताक रहे
टॉफी बिस्किट पड़े हुए थे
नहीं छुआ था काजू भी
देर लगायी मम्‍मी ने क्‍यों
सोच रहे थे जादू जी

बाथिंग टब में छपकी छपकी 
खेला करते थे जब भी
लिये तौलिया पहुंचा करतीं
मम्‍मी जी अकसर तब भी
आंख भर उठी जादू जी की 
मम्‍मी का भी दिल भर आया
उन्‍हें देखकर पापा के संग
मन उनका पुलकित हो आया
 

6 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

हमको तो भाई,
जादू की घुमाई।

डॉ. अजीत कुमार said...

खूब मजे करो बेटे.. बत मम्मी पापा इतना भी परेशान मत करो कि तुम्हारे लिए अभी से फ़्रांस जाते रहें.

रंजन (Ranjan) said...

beautiful!!

GURU SARAN LAL said...

bahut achchhi poem hai....wah...mja aagya...

DOCTOR MAMA said...

AREY BHAI JADOO !

AB FRANCE SE AAGEY BHI KAHIN PAHUNCHE YAA VAHIN HO ABHI TAK ?

- DOCTOR MAMA

2011-05-14
ENGLAND urf U.K. SE

Archana said...

aha...jadoo ki shararate mama ji ke mukh se sun maja aaya ......ab aage...???

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP