26 February 2011

जन्‍मदिन की ताज़ा तस्‍वीरें

आज मेरा जन्‍मदिन है।
मम्‍मा-पापा आज के लिए बहुत दिनों से तैयारियां कर रहे थे। आज जब मैं केक लेने निकला, तब की ताज़ा तस्‍वीरें। 

मम्‍मा का हाथ पकड़कर चलने का मज़ा ही और है।

 


IMG_8920हमारी बिल्डिंग में बहुत सारी बिल्लियां हैं। पूसी-कैट को मैं दौड़ा-दौड़ा कर उनसे खेलता हूं। बाहर जाते हुए मैं पहले उन्‍हें 'हैलो' करने ज़रूर जाता हूं।  IMG_8923गाड़ी की छत पर। कृपया आप ये 'स्‍‍टंट' करने की जुर्रत ना करें। IMG_8928केक ले लिया। अब पापा के साथ फोटो हो जाए।
IMG_8940 पापा के साथएक फोटो और। IMG_8939 अब चलता हूं। शाम को मेरे और पापा के बहुत सारे दोस्‍त आ रहे हैं। छोटी-छोटी दो पार्टियां हैं। बाय बाय।

10 comments:

वृक्षारोपण : एक कदम प्रकृति की ओर said...

स्नेहिल जादू,

जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनायें।
आपका जीवन
सुख, शान्ति,
स्वास्थ्य
एवं समृद्धि से परिपूर्ण हो।

इस अवसर पर एक वृक्ष लगायें।
इस अवसर को यादगार बनायें॥

पृथ्वी के शोभाधायक, मानवता के संरक्षक, पालक, पोषक एवं संवर्द्धक वृक्षों का जीवन आज संकटापन्न है। वृक्ष मानवता के लिये प्रकृति प्रदत्त एक अमूल्य उपहार हैं। कृपया अपने जन्मदिवसके शुभ अवसर पर एक वृक्ष लगाकर प्रकृति-संरक्षण के इस महायज्ञ में सहभागी बनें।

मनोज कुमार said...

ढेरों आशीष और शुभकामनाएं।

प्रवीण पाण्डेय said...

जादू के बाल लम्बे हो गये हैं, कब कटेंगे भाई?

dhiru singh {धीरू सिंह} said...

केक कब खिलाओगे जादू . हैप्पी वाला बर्थ डे मुबारक हो जादू

रावेंद्रकुमार रवि said...

जन्म-दिन शुभ हो तुम्हारा!
कामना यह शुभ हमारी!

रंजन said...

love you beta!!

डॉक्टर मामा said...

"हम भी अगर बच्चे होते
नाम हमारा होता जादू-वादू
खाने को मिलते लड्डू***
(*** या केक-पेस्ट्री !!)
और दुनिया कहती ’हैप्पी बर्थ डे टू यू’ !

अब तो है ये हाल कि जब से बीता बचपन...."


(अब आगे और क्या कहें ? बाकी जो कहना था,वो तुमसे अपनी चिट्ठी में पहले ही कह चुके हैं )
- डॉक्टर मामा

अनुष्का 'ईवा' said...

Happy Birth Day To You ....!!

डॉक्टर मामा said...

पाँच दिनों बाद भला अब ये "जन्‍मदिन की ताज़ा तस्‍वीरें" कैसे रहीं ?
जन्मदिन की पार्टी की रिपोर्ट और तस्वीरें कहाँ हैं भई ?
हम लोग भी तो देखें कि कैसी रही पार्टी ?

Dr Varsha Singh said...

जादू . हैप्पी वाला बर्थ डे...

आशीष और शुभकामनाएं।

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP