24 September 2010

जादू और गणपति बप्‍पा

पता है जबलपुर से लौटने के बाद मैं और भी बदमाश हो गया हूं। आजकल मेरी एक नई शरारत शुरू हुई है और वो है चीज़ों को उठाकर खिड़की से नीचे फेंक देना। उस दिन पापा ऑफिस से लौटे तो देखा कि मेरा बैट, हॉकी और मेरी एक चप्‍पल नीचे पड़ी है। उससे पहले मैंने एक दिन अपनी एक बुक नीचे फेंक दी थी। इसलिए पापा ने सोचा है कि घर की खिड़कियों पर 'पिजन नेट' लगवा दी जाए। ताकि ना तो कबूतर आ सकें और ना ही मेरी फेंकी चीज़ें नीचे जाएं।

गणपति-विसर्जन के दिन बड़ा मज़ा आया। पापा मुझे लेकर डॉन-बॉस्‍को स्‍कूल तक गए। आजकल पापा बाइक से जायें या गाड़ी से--मुझे उनके साथ जाना ही पड़ता है। मैं हर वक्‍त उनके साथ लगा रहता हूं ताकि घूमने जाने मिले। हां तो...मैं बाइक पर डॉन-बॉस्‍को स्‍कूल वाले स्क्वायर तक गया। और रास्‍ते में जहां भी बैंड बजता नज़र आया मैं हाथ हिला-हिलाकर डान्‍स करता रहा।

फिर लौटकर आए तो पापा ने कहा कि बिल्डिंग के सामने ही टहला जाए। जैसे ही एक गणपति-मंडल का कारवां सामने आया--बस मैं डान्‍स करने लगा। सब लोग मेरे साथ डान्‍स करने के लिए बेक़रार थे। बहुत लोगों के साथ उस दिन मैंने डान्‍स किया। IMG_7858सब लोग कहते हैं कि जादू के कान गणपति बप्‍पा जैसे हैं। इसलिए मैंने सोचा कि चलकर देखा जाए। उसके बाद एक जगह तो मैं झांकी वाले ट्रक पर ही बैठ गया। बड़ा मज़ा आया। मैंने गणपति बप्‍पा को प्रणाम भी किया। इसका वीडियो आगे है ज़रूर देखिएगा।  
IMG_7861मैं लगातार दौड़ दौड़कर पापा-मम्‍मा को दौड़ाता रहा। फिर पापा को लगा कि 'जादू' थक गया होगा--तो देखिए पापा ने किया इंतज़ाम जादू की शान की सवारी का।  
IMG_7866 और ये रहा गणपति बप्‍पा मोरया वाला मेरा वीडियो।


मैंने पापा से कितनी बार कहा है कि मेरे वीडियो एडिट करके तैयार कर दीजिए। ताकि मैं अपने वीडियोज़ आपको दिखा सकूं। पूरे एक-डेढ़ साल के वीडियो ऐसे ही पड़े हैं। ये वीडियो मैंने पापा के पीछे लगकर उनसे crop करवाया है ताकि आप आसानी से देख पाएं।

मैं जादू हूं ना मैं कुछ भी कर सकता हूं।

और हां कल आपको बताऊंगा जबलपुर में कैसे बुआ के साथ मैंने 'जैम' पोता अपने मुंह पर।

15 comments:

रंजन said...

सही है बेटा है.. हमने भी पिजन नेट लगवाया था.. पर आदि ने उसमें से भी रास्ता निकाल लिया था. :)

विडियो एडिट करना वाकय लंबा काम है.. ख़ैर अब पापा ने शुरू किया है तो चलता रहेगा.. और अब वीडियो भी खुब मस्त बनेगें..


प्यार..

माधव said...

बहुत सुन्दर पोस्ट , पढकर मजा आ गया

हाँ लिटी खाना है तो मेरे ब्लॉग पर आओ

सागर नाहर said...

घोर आश्‍चर्य हो रहा है, आपने गणपति महाराज के साथ फोटो सेशन के समय कोई शरारत नहीं की!
ये अच्छी बात नहीं है।
:)

Pankhuri Times said...

जादू भैया तुम तो सचमुच बडे प्यारे हो और शरारती भी..., लेकिन नो प्रोबलम ! हम बच्चे ही शरारत नेहीं करेगे तो कौन करेगा, पापा...? ही-ही-ही!
तुम हो जादू, मैं हूँ नन्ही परी, तो खूब जमेगी है न..., मुझसे मिलने मेरे ब्लोग पर भी आओ न !

Pankhuri Times said...
This comment has been removed by the author.
प्रवीण पाण्डेय said...

कान ही कान में क्या बतिया रहे हैं जादू जी।

रावेंद्रकुमार रवि said...

----------------------------------------
सदा रहो ऐसे ही मस्त!
----------------------------------------

अक्षयांशी सिंह सेंगर-Akshayanshi said...

सामन हम तो नहीं फेंकते पर हमारी छोटी बहिन बहुत फेंकती है. ये तो अच्छा है कि हम सभी लोग नीचे ही रहते हैं नहीं तो.......

PD said...

पापा का लैपटॉप उठा कर जिस दिन फेकोगे उसी दिन समझेंगे तुम्हे.. तुम्हारा सारा कच्चा-चिटठा यहाँ पर खुल जाता है बिटवा.. :)

Udan Tashtari said...

गज़ब आईटम हो यार...सीधे गणपति जी के पास ही पहुँच लिए..वाह!

ZEAL said...

.

Hey Mr. Miracle !

Nice meeting you.

Best wishes.

.

Akshita (Pakhi) said...

गणेशा की बात ही निराली है...


_________________________
'पाखी की दुनिया' में- डाटर्स- डे पर इक ड्राइंग !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

पोस्ट बहुत ही रोचक है!
--
आपकी पोस्ट की चर्चा "बाल चर्चा मंच"
पत्रिका पर भी है!
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/09/19.html

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

पोस्ट बहुत ही रोचक है!
--
आपकी पोस्ट की चर्चा "बाल चर्चा मंच"
पत्रिका पर भी है!
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/09/19.html

शुभम जैन said...

बहुत सुन्दर पोस्ट है आपकी
शुभ कामनाएं
-
-
जादू को यहाँ भी देखिये :
मिलिए ब्लॉग सितारों से

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP