21 May 2010

जादू ने किया 'गोलू-भालू' का इलाज।

बबलू चाचू और चाची पिछले हफ्ते इंदौर से मुंबई आए। और मेरे लिए लेकर आए दो मज़ेदार toys. एक तो सॉफ्ट-टॉय था और दूसरा बैटरी-से चलने वाला ये bear. ये बड़ा ही मस्‍तीबाज़ भालू है। मुझे देखकर मुंह चिढ़ाता है, गाना गाता है और डान्‍स भी करता है। जैसे-ही चाचा ने इसका हाथ  दबाया। ये डान्‍स करने लगा। मैंने सोचा ये है क्‍या बला।
IMG_6616

उसके बाद मेरी इस भालू से दोस्‍ती हो गयी है। गोलू-भालू अकसर मेरे साथ-साथ रहता है। मेरे पीछे लगा रहता है। कभी मेरे साथ बेडरूम में जाता है तो कभी हॉल में चला आता है। एक दिन तो कहने लगा कि तुम्‍हारे साथ बाहर चलूंगा घूमने के लिए। मैंने कहा--'बेटा अभी तुम छोटे हो, बड़े हो जाओ तो अपने साथ घुमाने ले चलूंगा।'  IMG_6622एक दिन मैं सुबह-सुबह मन ही मन लिस्‍ट बना रहा था कि आज मुझे क्‍या-क्‍या शरारत करनी है, तभी ये मेरे पास आकर ठंस गया। मैंने कहा, मुझे डिस्‍टर्ब मत करो। बहुत काम है आज मुझे। पर इसने मेरी एक ना मानी।
IMG_6625मैंने कहा, देखो, कह रहा हूं, तंग मत करो। पर जब ये हटा नहीं तो मैंने इसका पैर पकड़कर खींच लिया। IMG_6626 जब गोलू-भालू धड़ाम से गिरा, तो मैंने इसका 'चेक-अप' करना शुरू किया। इसके जूतों की जांच की। पता चला कि इसके पैरों में जो बैटरी लगी है, वो 'वीक' हो गयी है। इसलिए ये मेरे पीछे लगा था कि जल्‍दी से मेरी बैटरी बदलवा दो। पर मैं गोलू-भालू की बात समझ नहीं पा रहा था। IMG_6627उसने मुझे इतना 'बोर' कर दिया कि मुझे 'जम्‍हाई' आने लगी है। देखो कित्‍ता उनींदा हो गया हूं मैं। IMG_6628चलता हूं, सोने जा रहा हूं। आज की शरारतों की लिस्‍ट बहुत लंबी है। सोकर उठूंगा तो एक एक करके सारी शरारतें निपटाऊंगा। मैं जादू हूं ना, मैं कुछ भी कर सकता हूं। 

3 comments:

माधव said...

सही है वीडु

रंजन said...

jay ho..

puraa angrej lag rahe ho betu ji..

pyaar..

"डॉक्टर मामा" said...

डॉक्टरी करना कोई इतना आसान काम भी नहीं है,बेटा।

सबसे पहला उसूल तो यही है कि देख लिया जाए कि मरीज़ कौन है :

It is more important to know what sort of patient has the disease than to know what sort of disease the patient has !

ये नहीं कि सामने हो तो शेर और आप भालू समझ कर इलाज़ करते रहो ।

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP