01 March 2010

जादू ने देखा होलिका-दहन

मैं मुंबई में जहां रहता हूं वहीं पास में है पेप्‍सी ग्राउं

ड है । इस ग्राउंड में यूं तो बच्‍चे खेलते हैं और लोग 'वॉक' करने आते हैं । पर यहां प्रवचन भी होते हैं और सांस्‍कृतिक आयोजन भी । राजनीतिक-रैलियां भी होती हैं और प्रदर्शनियां भी । मैं इस ग्राउंड में वॉक करने इसलिए नहीं जाता क्‍यों‍कि क्रिकेट खेलते बच्‍चों की बॉल आकर लग जाये तो क्‍या हो । इसी ग्राउंड में हर साल होली जलाई जाती है । कल मैं पहली बार होली देखने इस ग्राउंड पर गया । पिछले साल जब होली आई तो मैं बहुत छोटा था ना इसलिए पिछले साल नहीं गया था । होली की लपटों को देखकर और आंच को महसूस करके मुझे बहुत अच्‍छा लगा ।
1 IMG_6069

मम्‍मी-पापा जब मुझे पेप्‍सी ग्राउंड लेकर गए तो वहां 'लपटों' को देखकर मैं दंग रह गया । पहली बार जो मैं ऐसा नज़ारा देख रहा था । मेरी तो नज़रें वहां से हट ही नहीं रही थीं । 
 2 IMG_6070 3 IMG_6072

मम्‍मा ने मुझे होली की कहानी सुनाई । बताया कि होली का त्‍यौहार क्‍यों मनाया जाता है । वहां काफी भीड़-भाड़ थी । और मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था । 4 IMG_6075वहां ढोल और नगाड़े बजाते हुए 'हुरियारों' की टोली देखकर मुझे अच्‍छा लगा । मारवाड़ी मंडल के ये लोग होली के गीत गा रहे थे । जो मेरी समझ में नहीं आये । पर इनकी मस्‍ती देखकर मुझे लगा बहुत अच्‍छा । 5 IMG_6076
6 IMG_6077 7 IMG_6078 8 IMG_6081

होली की मस्‍ती मुझ पर सवार हो चुकी है । कल एक आंटी ने बोला कि वो मुझे रंगने के लिए तैयार हैं । मैंने उनसे कह दिया है कि सिंथेटिक-रंग मत लगाईयेगा । जितना हो सके कुदरती-रंग लगाईये । मैं होली के लिए तैयार हूं । तो बताईये कौन-कौन नेचरल कलर से मुझे रंगने आ रहा है ।


3350630892_30a1437e33

2 comments:

Udan Tashtari said...

अरे वाह जादू...मजा आया होगा फिर तो!!


ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
खुशी की हो बौछार,चलो हम होली खेलें.


आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

-समीर लाल ’समीर’

Manish said...

वाह जी अकेले ही कहानियां सुन सुना रहे हैं.... एक आध इधर भी पोस्ट कीजिए ..... वैसे नेचरल कलर से रंगने मैं ही आ रहा हूँ ....तस्वीरों मे ये युनुस जी और ममता जी हैं क्या?
दिमाग मे ज़रा केमिकल लोचा हो गया हैं ..... जादू भाई!!!! क्या आप अपने माता-पिता का नाम बताएँगे?
आपको होली की ढेर सारी शुभकामनाएं!!!!!

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP