28 February 2010

डॉक्‍टर-मामा का भेजा खिलौना और चोर-पुलिस का खेल

मेरे बर्थडे पर डॉक्‍टर मामा ने मुझे एक ही दिन पहले एक खिलौना भेजा कुरियर से । कुरियर वाले ने इसे मम्‍मी को देने से पहले ही घर के सामने हाथ से छोड़ दिया, मेरा मतलब उसके हाथ से छूट गया । जबकि डॉक्‍टर मामा ने उस पर लिख दिया था Don't Drop. ख़ैर--उसमें जो खिलौना था उसे देखकर मेरा मन ललच उठा । पर मम्‍मी ने कहा कि तुम्‍हारा बर्थडे तो कल है ना तो इससे आज मत खेलो । मैं मन मारके रह गया । बहरहाल मेरे जन्‍मदिन के दिन मुझे मौक़ा मिल ही गया फिर देखिए मैंने क्या किया । पहले मैंने इस खिलौने को पहचाना
1उसके बाद मैंने इसका पीछा करना शुरू किया । बैटरी से चलने वाला ये खिलौना पूरे हॉल में 'जादू जादू' कहकर गाना गाता हुआ घूम रहा था ।  और मैं था उसके पीछे ।

2इसके

बाद पता है क्‍या हुआ । मेरे भीतर जिद आ गयी कि मैं इसे पकड़ कर ही रहूंगा 3पीछा जारी है । चोर पुलिस का खेल चल रहा है ।  4अरे बाबा रे । ये खिलौना तो बड़ा ही तेज़ है । मुझे चकमा देता जा रहा है । कोई आयडिया लगाना पड़ेगा । 5ये बात । अब मैंने इसे कान पकड़कर खींच लिया है । अंय इसका एक कान तो कल ही टूट गया था जब कुरियर वाले ने इसे गिरा दिया था । मैंने तो इसकी कान की जगह लगी एल.ई.डी. को खींचकर उसका वायर भी बाहर निकाल लिया है ।
6

जैसे ही मैंने ज़रा सी ढील दी, ये खिलौने वाला बच्‍चा छूटकर भाग निकला और मुझे मुंह चिढ़ाने लगा । पहले उस तरफ गया । 7और फिर इस तरफ चला आया ।  मैं थोड़ी देर बैठकर इसकी शरारत देखता रहा । 8 उसके बाद फिर-से उसे सज़ा दी । कान पकड़कर खींचने की सज़ा ।
9इस बीच मम्‍मी आ गयीं । और उन्‍होंने बेचारे को बचा लिया ।
10 पर जैसे ही मम्‍मी का ध्‍यान भटका मैं फिर से शुरू हो गया ।
11पर चिंता मत कीजिए । सब सही-सलामत है । बैटरी एक्‍जॉस्‍ट हो गयी है । इसलिए खिलौना फिलहाल शांत है । पापा के पास एक्‍स्‍ट्रा बैटरीज़ हैं । जब वो लगायेंगे फिर से चोर-पुलिस का खेल शुरू हो जायेगा । 

4 comments:

dhiru singh {धीरू सिंह} said...

बर्थ डे गिफ़्ट बहुत अच्छा है . वैसे खिलोने खेलने के लिये होते है और तोड्ने के लिये भी

रंजन said...

jaadu ji ab to bade ho gaye he..

pyaar..

Udan Tashtari said...

जोर से पटक कर देखो जरा...शायद चल जाये. :)


ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
खुशी की हो बौछार,चलो हम होली खेलें.


आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

-समीर लाल ’समीर’

yunus said...

testing testing

जादू क्‍यों

हम हैं जादू के मम्‍मी-पापा ।
'जादू' अपनी मुस्‍कानें लेकर आया है हमारी दुनिया में ।
हम चाहते हैं कि ये मुस्‍कानें हम दुनिया के साथ बांटें ।

जादुई दिन

Lilypie - Personal pictureLilypie Second Birthday tickers

  © Free Blogger Templates Spain by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP